web stats
यौन संचारित रोग – Dr. Roy Medical Hall

ROY MEDICAL HALL

Jaffer Khan Colony | Calicut | Kerala | India
Sexual Health With Unani Medicine
Call for Appointment: +91 9349113791

Syphilis

Gonorrhoea Genital Herpes Chlamydia

सिफलिस एक बैक्टीरिया जनित संक्रमण है जो आम तौर पर यौन संपर्कों से फैलता है। यह रोग आपके जननांगों, त्वचा और श्लेष्मा झिल्ली को प्रभावित करता है लेकिन यह आपके शरीर के अन्य भागों को भी शामिल कर सकता है, जिसमें आपका दिमाग और दिल भी शामिल है।

"पॉक्स" वह नाम है जिससे सिफलिस पहले जाना जाता था, पहली बार 1490 में यूरोप में दिखा था, इसने एक ऐसी महामारी का रूप ले लिया था, जिसने जबरदस्त डर और गलतफहमी पैदा कर दी थी और इसके चलते इस बीमारी से पीड़ित लोगों को आम तौर पर प्रतिबंधित कर दिया गया था, और तो और अस्पतालों में भी उनका प्रवेश बंद कर दिया गया था। लगभग 500 साल के बाद जब प्रभावी उपचार ढ़ूंढ़ा गया, सिफलिस से पीड़ित लोगों में से अधिकांश, गंभीर फोड़ों, दर्द, बर्बादी और मौत से पीड़ित रहे और तो और अक्सर शर्म व सामाजिक बहिष्कार से भी पीड़ित रहे। हलांकि शिक्षा की कमी और असुरक्षित सेक्स ने सिफलिस के मामलों में नयी वृद्धि कर दी है और यह बीमारी 2001 से फिर से बढ़ रही है।

चिह्न तथा लक्षण

सिफलिस के चिह्न व लक्षण तीन चरणों में होते हैं - प्राथमिक, द्वितीयक और तृतीयक

प्राथमिकः:- शुरुआत होने के 10 दिनों से तीन माह के अंदर दिख सकते हैं:-

  • आपके शरीर के उस हिस्से में एक छोटा, बिना दर्द वाला दाना (फोड़ा, एक बिना दर्द का अल्सर) जहां से संक्रमण दाखिल हुआ, आम तौर पर आपके जननांग, जीभ या होंठ। एकल फोड़ा आम है लेकिन कई दाने भी हो सकते हैं।
  • आपके पेट और जांघ के बीच के भाग में बढ़े हुये लिंफ नोड्स।

राथमिक सिफलिस आम तौर पर बिना उपचार के समाप्त हो जाता है लेकिन भीतरी तौर पर रोग बना रहता है और द्वितीयक या तृतीयक चरण में फिर से उभर सकता है।

वितीयक:-फोड़ों के दिखना बंद होने के तीन से छः सप्ताह के बाद सिफलिस शुरु हो सकता है और इसमें निम्नलिखित शामिल हो सकता है: -

  • लाल या लाल-भूरे रंग के चकत्ते, हथेली और तलवे के साथ आपके शरीर के किसी भी हिस्से पर सिक्के के आकार के चकत्ते।
  • बुखार
  • थकान और असुविधा का अस्पष्ट सा एहसास
  • हड्डियों और जोड़ों में पीड़ा और दर्द

ये चिह्न और लक्षण दो सालों तक आते जाते रह सकते हैं। कुछ लोगों में भीतरी सिफलिस कही जाने वाली अवधियां, द्वितीयक चरण के बाद हो सकती हैं, जिनमें कोई लक्षण मौजूद नहीं होते हैं तथा रोग संक्रामक नहीं होता है। ऐसा हो सकता है कि चिह्न और लक्षण कभी-भी वापस न आयें या रोग तृतीयक चरण में प्रवेश कर जाये।

तृतीयक:- उपचार के बिना, सिफलिस बैक्टीरिया फैल सकता है, जिसके कारण बरसों बाद भीतरी अंगो की गंभीर क्षति या मौत भी हो सकती है, तृतीयक सिफलिस के कुछ चिह्नों और लक्षणों में निम्नलिखित शामिल हैं: -

  • मस्तिष्क से संबंधित समस्याएं: इनमें दौरा; झिल्लियों और आपके मस्तिष्क के चारों ओर के तरल व रीढ़ की हड्डी में संक्रमण या सूजन (मेनिन्जाइटिस- मस्तिष्क ज्वर); खराब मांसपेशीय समन्वय; अकड़न; पक्षाघात; बहरापन या देखने से जुड़ी समस्याएं; व्यक्तित्व में बदलाव और मतिभ्रम शामिल हो सकते हैं।
  • दिल से संबंधित समस्याएं: इनमें उभरा हुआ (धमनीविस्फार) और महाधमनी की सूजन (आपके शरीर की मुख्य धमनी) तथा अन्य रक्त वाहिकाओं से संबंधित समस्याएं शामिल हैं।

कारण, जोखिम कारक तथा जटिलताएं

सिफलिस अपने प्राथमिक तथा द्वितीयक चरणों में संक्रामक है। ट्रेपोनेमा पैलिडम, वे बैक्टीरिया जनित जीव हैं जो सिफलिस पैदा करते हैं और आपके शरीर में छोटी मोटी चोटों या त्वचा की खरोचों अथवा श्लेष्म झिल्लियों के माध्यम से आपके शरीर में प्रवेश करते हैं। इनके फैलने का सबसे आम तरीका, किसी पहले से संक्रमित व्यक्ति के साथ यौन संबंधों के दौरान संपर्क है। संक्रमण के अन्य मार्गों में संक्रमित रक्त लेना, सक्रिय घाव वाले के साथ असुरक्षित नज़दीकी संपर्क (जैसे चुंबन से) और गर्भावस्था के दौरान माँ से होने वाले बच्चे को रोग होना शामिल है।

ट्रेपोनेमा पैलिडम प्रकाश, हवा और तापमान में परिवर्तन के प्रति बहुत संवेदनशील होता है। यह केवल मानव शरीर में रह सकता है।

उच्च जोखिम वाली यौन गतिविधियां आपको सिफलिस तथा अन्य यौन संचारित रोगों (STD) का खतरा पैदा करती हैं। वे लोग जो असुरक्षित यौन संबंध करते हैं वे विशेष रूप से खतरे में होते हैं। 2000 के बाद से सिफलिस केवल पुरुषों में बढ़ा है और आधे से अधिक सिफलिस संक्रमित लोग मानव इम्युनोडेफिशिएंसी वायरस(HIV) से भी संक्रमित पाये गये हैं।

कोई भी व्यक्ति जो असुरक्षित यौन संबंध बनाता है सिफलिस से संक्रमित होने का जोखिम उठाता है। यदि आपको पहले सिफलिस हुआ था और इसका उपचार भी किया गया था तो भी आप इससे फिर से संक्रमित हो सकते हैं।

यदि आप गर्भवती हैं तो, इस बात की संभावना है कि सिफलिस आपके होने वाले बच्चो में भी हो। वह रक्त जिसमें बैक्टीरिया शामिल हैं वह प्लेसेंटा के माध्यम से फेटस में पहुंच जाता है। गर्भवती महिलाएं जिनको सक्रिय, गैर उपचारित सिफलिस होता है उनमें से आधी महिलाओं के पैदा होने वाले वच्चों को यह रोग हो सकता है और लगभग एक चौथाई से आधी गर्भवती महिलाओं को गर्भपात हो जाता है। यदि आपका बच्चा जन्म से सिफलिस से पीड़ित है तो इस रोग के चिह्न जन्म के समय दिख सकते हैं या तब दिख सकते हैं जब आपका बच्चा 2 सप्ताह से 3 माह की उम्र के बीच का हो जाये।.

सिफलिस के साथ पैदा हुये वे बच्चे जिनका शुरुआत में इलाज नहीं होता है, आगे चलकर गंभीर जटिलताओं का शिकार हो सकते हैं, जिनमें निम्नलिखित शामिल है: -

  • हड्डियों से संबंधित असामान्यताएं तथा दर्द
  • नाक के जोड़ का दबा होना (सैडल नोस)
  • जोड़ों में सूजन
  • दिखने व सुनने से संबंधित समस्याएं
  • अनगढ़, पेंचकस के आकार के दांत (हचिन्सन टीथ)
  • आरंभिक घावों की जगहों पर निशान
  • मृत्यु
 
 

सिफलिस पीड़ित लोगों को HIV से संक्रमण का दो से पांच गुना तक अधिक खतरा होता है। सिफलिस के घाव यौन संबंधों के दौरान HIV को आपके रक्त में आसानी से जाने का मार्ग प्रदान करते हैं।

रोकथाम

सिफलिस तथा अन्य यौन संचारित रोगों का जोखिम करने के लिये सुरक्षित यौन संबंधों को अपनाइये।

यौन संबंधो को एकल व गैरसंक्रमित सहयोगियों तक सीमित रखिये।

यदि आपको अपने यौन सहयोगी की STD स्थिति की जानकारी नहीं है तो हर बार कंडोम (निरोध) का इस्तेमाल करिये।

बहुत अधिक शराब या नशीली दवाओं के सेवन से बचिये जो निर्णय लेने की क्षमता पर असर डालते हैं और असुरक्षित न संबंधों की ओर ले जाते हैं।

चिकित्सा सलाह कब ली जाय

यदि आपके जननांग क्षेत्र में कोई दर्द करने वाला घाव या आपके जांघ व पेट की जोड़ वाली जगह पर बढ़े हुये लिंफ नोडेस है तो डॉक्टर से मिलिये। ये सिफलिस के लक्षण हो सकते हैं।

सिफलिस की आरंभिक अवस्था में उपचार गंभीर, दीर्घ अवधि रोग तथा रोग के विस्तार से बचाव करता है।

Counselling for real sexual experience
Human remain sexually active till 90's
Frequently Asked Questions
Online Consultation Form
What is the cure?
Treatment Duration
How to get medicine
Why Unani Medicine?
A Success Story
Side Effect of Viagra
Sexual Weakness
Premature Ejaculation
Nocturnal Emission
Excessive Masturbation
Penis Size
Low Sperm Count
Women Sex Problems
Leucorrhoea
Our Doctors
Best Unani Physician
Home Page
Contact Us

Call Us

हम फोन पर परामर्श नहीं देते है। केवल समय निश्चित करने के लिये फोन करें

00919349113791
00918893311666
00918547647124

Related Stories

Contact Us

CALICUT OFFICE
ROY MEDICAL HALL

Jaffer Khan Colony

Calicut. 673006, Kerala, India

 

Consultation Timing

Daily : 11:30 am - 6:00 pm

Sunday : 11:30 am - 2:00 pm

 

Call for Appointment:

Mobile: 00919349113791

LOCATION MAP
TRICHUR OFFICE
ALFA HEALTH CENTER

Nethaji Road, West Fort, Poothol

Trichur. 680004, Kerala, India

 

Consultation Timing

Daily : 10:00 am - 7:00 pm

Sunday : 10:00 am - 2:00 pm

 

Call for Appointment:

Mobile: 00919037512024

ऑनलाइन परामर्श फार्म

ईमेल भेजने के लिए कृपया सभी सवाल के जवाब दे,अन्यथा आप ईमेल भेज नहीं सकते

लिंग
नर महिला
वैवाहिक स्थिति
विवाहित अविवाहित
आप शाकाहारी हैं या माँसाहारी
शाकाहारी मांसाहारी
आपकी भूख कैसी है?
अच्छी खराब
आपकी शारीरिक बनावट कैसी है?
मोटा पतला
क्या आपको कब्ज़ की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको अनिद्रा की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको मधुमेह है?
हाँ नहीं
क्या आपको अत्यधिक पेशाब की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको स्वप्न-दोष की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको शीघ्रपतन की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आपको यौन कमजोरी (शक्तिहीनता) की समस्या है?
हाँ नहीं
क्या आप कभी यौन रोगों (गुप्त रोग) से पीड़ित हो चुके है?
हाँ नहीं
क्या आप किसी नशीले पदार्थ के आदी हैं?
हाँ नहीं
Disclaimer || Terms and Conditions || Privacy Policy || Copyrights © 2015 Roy Medical Hall. All Rights Reserved. Web Design & Developed by : Aspire Technologies.